#International Labour Day 2021 #1 may #अंतर्राष्ट्रीय मज़दूर दिवस क्यों मनाया जाता है? #happy majdor

1 Просмотры
Издатель
#International Labour Day 2021 #1 may #अंतर्राष्ट्रीय मज़दूर दिवस क्यों मनाया जाता है? #happy majdor
Ssc bank up si bihar si ntpc group d police etc all examination
My youtube cheenal #Gs study 360 tksingh like subscribe or share now






मजदूर हमारे समाज का वह हिस्सा है जिसपर समस्त आर्थिक उन्नति टिकी हुई हैl वर्तमान समय के मशीनी युग में भी उनकी महत्ता कम नहीं हुई हैl उदाहरण के लिए, उद्‌योग, व्यापार, कृषि, भवन निर्माण, पुल एवं सड़कों का निर्माण आदि समस्त क्रियाकलापों में मजदूरों के श्रम का योगदान महत्त्वपूर्ण होता है।

मजदूर अपना श्रम बेचकर न्यूनतम मजदूरी प्राप्त करता है। इसीलिए अंतर्राष्ट्रीय श्रमिक संघ को बढ़ावा देने के लिये मजदूर दिवस को अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मनाया जाता हैl इस दिवस को मनाने के पीछे उन मजदूर यूनियनों की हड़ताल है जो कि आठ घंटे से ज्यादा काम ना कराने के लिए की गई थी| इस दिन कई देशों में राष्ट्रीय अवकाश होती हैl अमेरिका में सितंबर महीने के पहले सोमवार को “मजदूर दिवस”  मनाया जाता है। 

1 मई, 1886 से अंतर्राष्ट्रीय मज़दूर दिवस मनाने की शुरुआत हुई थीl अमेरिका के मजदूरों ने 8 घंटें को कम करने के लिए हड़ताल की थीl इसी हड़ताल के दौरान शिकागो के “हेय मार्किट” में बम धमाका हुआ थाl जिसके कारण पुलिस ने मजदूरों पर गोली चला दी और कुछ मज़दूर मरे गएl उस समय अमेरिका पर इन घटनाओं का कोई प्रभाव नहीं पड़ा, लेकिन बाद में 8 घंटे काम करने के समय को निश्चित कर दिया गया थाl


भारत में 1923 को श्रमिकों द्वारा मनाया गया थाl किसान मज़दूर पार्टी के नेता कामरेड “सिंगरावेलू चेट्यार” ने इसकी शुरूआत की थी और मद्रास हाईकोर्ट सामने इस दिन को पूरे भारत में “मजदूर दिवस” के रूप में मनाने का संकल्प लिया और छुट्टी का ऐलान किया थाl


फ्रैंकलीन डी रूज़वेल्ट के अनुसार, “किसी कारोबार को ऐसे देश में जारी रहने का अधिकार नहीं है जो अपने श्रमिकों को जीवन निर्वाह के लिए आवश्यक मजदूरी से भी कम मजदूरी पर काम करवाता हैl जीवन निर्वाह के लिए आवश्यक मजदूरी से मेरा मतलब सम्मानपूर्वक जीवन निर्वाह के लिए आवश्यक मजदूरी से है।”


- मार्टिन लूथर किंग जूनियर के अनुसार, “इंसानियत को ऊपर उठाने वाले सभी श्रमिकों की अपनी प्रतिष्ठा और महत्व है, अतः श्रमसाध्य उत्कृष्टता के साथ किया जाना चाहिए।”


- अब्राहम लिंकन के अनुसार, “अगर कोई व्यक्ति आपसे कहे कि वह अमेरिका से प्यार करता है, फिर भी मजदूर से नफरत करता है, तो वह झूठा हैl अगर कोई कहे कि वो अमेरिका पर भरोसा करता है, फिर भी मजदूर से डरता है,  तो वह एक बेवकूफ है।”

- एडम स्मिथ के अनुसार, “दुनिया की सारी संपदा को वास्तव में सोने या चाँदी से नहीं, बल्कि मजदूरी के द्वारा खरीदा जा सकता हैl”


- जॉन लोके के अनुसार, “वास्तव में ये मजदूर ही हैं, जो सभी चीजों में अन्तर पैदा करते हैंl”
Категория
Игра роблокс
Комментариев нет.